मैं नासमझ ही सही मगर वो तारा हूँ जो


मैं नासमझ ही सही मगर वो तारा हूँ जो,
तेरी एक ख्वाहिश के लिए सौ बार टूट जाऊं।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Main Nasamajh Hi Sahi Magar Woh Tara Hun Jo,
Teri Ek Khwahish Ke Liye Sau Baar Toot Jaun.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Leave a Comment