गुजारिश हमारी वह मान न सके 🙂


गुजारिश हमारी वह मान न सके,
मज़बूरी हमारी वह जान न सके,
कहते हैं मरने के बाद भी याद रखेंगे,
जीते जी जो हमें पहचान न सके.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Gujarish hamari wah maan na sake,
Majburi hamari woh jaan na sake,
Kehte hain marne ke baad bhi yaad rakhenge,
Jeete ji jo hame pehchan na sake.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Leave a Comment