2 line shayari - 2 लाइन शायरी

मुस्कुराने की अब वजह याद नहीं रहती 🙁


मुस्कुराने की अब वजह याद नहीं रहती,
पाला है बड़े नाज़ से… मेरे गमों ने मुझे !
Click To Tweet

Muskuraane kee ab wajah yaad nahin rehti,
Paala hai bade naaz se… mere ghamon ne mujhe!
Click To Tweet
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top