महक रही है ज़मीं चांदनी के फूलों से 😇


महक रही है ज़मीं चांदनी के फूलों से,
ख़ुदा किसी की मुहब्बत पे मुस्कुराया है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Mehak Rahi Hai Zamin Chaandni Ke Phoolo Se,
Khuda Kisi Ki Muhabbat Pe Muskuraya Hai.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Leave a Comment