एहसास-ए-मुहब्बत के लिए बस इतना ही काफी है 😍


एहसास-ए-मुहब्बत के लिए बस इतना ही काफी है,
तेरे बगैर भी हम, तेरे ही रहते हैं।
Click To Tweet

Ehsaas-E-Mohabbat Ke Liye Bas Itna Hi Kaafi Hai,
Tere Bagair Bhi Hum Tere Hi Rahte Hain.
Click To Tweet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *