2 line shayari - 2 लाइन शायरी

अकेले हम ही शामिल नहीं हैं


अकेले हम ही शामिल नहीं हैं इस जुर्म में,
नजर जब मिली थी मुस्कराये तुम भी थे।
Click To Tweet

Akele Hum Hi Shamil Nahi Iss Jurm Mein,
Najar Jab Mili Thi Muskuraye Tum Bhi The.
Click To Tweet
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top