Ishq Shayari - इश्क शायरी

खुश नसीब होते हैं बादल 😍


खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं.
CopyShare Tweet
Copied Successfully !

Khush naseeb hote hain badal,
Jo dur rehkar bhi zameen par baraste hain,
Aur ek badnaseeb hum hain,
Jo ek hi duniya mei rehkar bhi.. Milne ko taraste hain.
CopyShare Tweet
Copied Successfully !
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top