Intezaar Shayari - इंतज़ार शायरी

प्यार वो हम को बेपनाह कर गये ❤

Pyar woh hum ko bepanah kar gaye
Phir zindgi mein hum ko tanha kar gaye
Chahat thi unke ishq mein Fanaah hone ki
Par woh laut kar aane ko bhi mana kar gaye.

प्यार वो हम को बेपनाह कर गये,
फिर ज़िन्दगी में हम को तन्नहा कर गये,
चाहत थी उनके इश्क में फ़नाह होने की,
पर वो लौट कर आने को भी मना कर गये।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top