Intezaar Shayari - इंतज़ार शायरी

कब उनकी पलकों से इज़हार होगा 👀

Kab Unki Palkon Se Izhaar Hoga,
Dil K Kisi Kone Mein Hamare Liye Pyar Hoga,
Guzar Rahi Hai Raat Unki Yaad Me,
Kabhi To Unko Bhi Hamara Intezar Hoga.

कब उनकी पलकों से इज़हार होगा,
दिल के किसी कोने में हमारे लिए प्यार होगा,
गुज़र रही है हर रात उनकी याद में,
कभी तो उनको भी हमारा इंतज़ार होगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top