मेरी दास्ताँ का उरोज था 😌


मेरी दास्ताँ का उरोज था
तेरी नर्म पलकों की छाँव में,
मेरे साथ था तुझे जागना
तेरी आँख कैसे झपक गयी।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Meri Daastan Ka Uroj Tha,
Teri Narm Palkon Ke Chhaon Mein,
Mere Saath Tha Tujhe Jaagna,
Teri Aankh Kaise Jhapak Gayi.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Leave a Comment