Dosti Shayari - दोस्ती शायरी

दोस्ती भुलाई नहीं जाती

Manzil Milne Se Dosti Bhulai Nahi Jati,
Hamsafar Milne Se Dosti Mitai Nahi Jati,
Dost Ki Kami Har Pal Raheti Hai,
Duriyo Se Dosti Chhupai Nahi Jati.🌹

मंजिल मिलने से दोस्ती भुलाई नहीं जाती,
हमसफ़र मिलने से दोस्ती मिटाई नहीं जाती,
दोस्त की कमी हर पल रहती है यार,
दूरियों से दोस्ती छुपाई नहीं जाती।🌹

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top