रग रग में है जो बिखरी 😍


रग रग में है जो बिखरी
वो खुशबु तुम्हारी है,
मैदान-ए-इश्क़ की बाज़ी
इस दिल ने भी हारी है,
मुझे यूँ छोड़ जा बेशक भले
पर भूल ना पाओगी,
तेरे हर शिकवे पर भारी
ये मोहब्ब्त हमारी है।
Copy Tweet
Copied Successfully !

Rag Rag Mein Hai Jo Bikhri
Woh Khushbu Tumhari Hai,
Maidan-e-Ishq Ki Baazi
Iss Dil Ne Bhi Haari Hai,
Mujhe Yun Chhod Ja Beshak Bhale
Par Bhool Na Paogi,
Tere Har Shikwe Par Bhaari
Yeh Mohabbat Humari Hai.
Copy Tweet
Copied Successfully !

Leave a Comment