Shayari e Dard - दर्द ए दिल शायरी

बेताब सा रहते हैं तेरी याद में अक्सर 💔


बेताब सा रहते हैं तेरी याद में अक्सर,
रात भर नहीं सोते हैं तेरी याद में अक्सर,
जिस्म में दर्द का बहाना बना के,
हम टूट के रोते हैं तेरी याद में अक्सर। 💔
Click To Tweet

Betaab sa rehte hain teri yaad mein aksar,
Raat bhar nahi sote teri yaad mein aksar.
Bedard zamaane ka bahana sa bana kar,
Hum toot ke rote hain teri yaad mein aksar. 💔
Click To Tweet
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top